ad

कोरोना वायरस क्या है यह क्यों कैसे और कब फैलता है और इससे बचाव के उपाय

कोरोना वायरस क्या है?

कोरोना वायरस क्या है यह क्यों कैसे और कब फैलता है और इससे बचाव के उपाय


कोरोनावायरस जानवरों में पाई जाने वाली एक बीमारी है परंतु हाल ही में ये मनुष्य में बहुत ज्यादा तेजी से बढ़ती जा रही है। यह चाइना से उत्पन्न हुआ है जब हमने इसकी खोज की तो हमें पता चला कि यह चाइना के वुहान से निकला है चाइना के वूआन में एक सीफूड मार्केट है । पूरे विश्व में यह वायरस फैलता जा रहा है। और इस वायरस का संक्रमण २८  से भी ज्यादा देशों में फैल गया है। जिसके चलते विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य संस्था डब्ल्यूएचओ ने ने इसे ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया है ।वायरस प्राणियों से मनुष्यों मैं फैलते हैं।मनुष्यों की मरने की संख्या बता रही है कि यह वायरस एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में कितनी तेजी से फैल रहा है यह जो नया कोरोना वायरस है यह मनुष्य में इससे पहले कभी भी पाया नहीं गया था।


कोरोना वायरस के लक्षण

  1. जिस व्यक्ति को कोरोना वायरस है उस व्यक्ति को बुखार तेजी से आता है। और लगातार बुखार चलता रहता है।
  2. कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति को सुखी खांसी आती है।
  3. मरीज को सांस लेने में तकलीफ होती है।
  4. गंभीर परिस्थितियों में और कभी-कभी या तकलीफ इतनी बढ़ जाती है कि गंभीर परिस्थितियों में उसे निमोनिया होता है। और किडनी फेल हो जाती है तथा अंत में उसकी मौत भी हो जाती है।
  5. यदि आपको खासी जी या सिरदर्द और बुखार भी है तो जरूरी नहीं है कि आपको को रोना ही है आप साधारण बीमार भी हो सकते हैं परंतु यदि ऐसा है तो आप अपने घर में ही रहे।
  6. यदि आपको ऐसी खांसी हो जिसमें बलगम नहीं हो उसे सुखी खासी कहते हैं और कोरोना में ऐसी ही सूखी खांसी होती है और बार-बार लगातार वह खांसी होती है जिस से गले में दर्द की समस्या भी होती है।
  7. तकनीकी तौर पर यदि आपके शरीर का तापमान 37 पॉइंट 8 डिग्री सेल्सियस है या 100 डिग्री फारेनहाइट से ज्यादा है तो आप को बुखार है यदि आप कर आपके पास थर्मामीटर नहीं भी है तो भी आपको अपने शरीर का तापमान ज्यादा लगने लगेगा और यदि आपको कोई छूता है पता लगाने के लिए तो आपकी छाती और पीठ बहुत अधिक गर्म होगी यदि आपको ऐसा कोई भी लक्षण हो रहा हो तो आप और आपके साथ वाले लोग कम से कम 14 दिन तक अपने घर में ही रहे।
  8. यदि बुखार और खांसी ज्यादा समय तक ठीक नहीं हो और बढ़ती ही जा रही हो तो डॉक्टर से संपर्क करें और अपने आपका कोरोना टेस्ट करवाएं।


कोरोना वायरस से किस प्रकार संक्रमण होता है?


यह वायरस एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में फैल सकता है अगर उन दोनों के बीच में दूरी हो 6 फीट से भी कम। एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में यह वायरस फैलने का जरिया है व्यक्ति के फेफड़ों से निकले हुए तरल द्रव।  जो एक व्यक्ति के खासने और छिकने से बाहर आ जाते हैं। विषाणु सहित यह तरल बूंदे एक व्यक्ति के श्वसन मार्ग से दूसरे व्यक्ति के श्वसन मार्ग के अंदर फेफड़ों में प्रवेश करती है और उसे भी यह बीमारी हो जाती है। कोई संक्रमित व्यक्ति अगर ऐसे हाथ किसी भी वस्तु पर लगा दें और दूसरा व्यक्ति उस वस्तु को छू ले भले ही संक्रमित व्यक्ति के अंदर खांसी बुखार जैसे लक्षण ना दिखाई दे तो भी सामने वाले व्यक्ति को यह संक्रमण हो जाता है। क्योंकि वह कीटाणु संक्रमित व्यक्ति के खांसी के दौरान या चिकने के दौरान बाहर आ जाता है और उसके हाथों के जरिए वह किसी भी वस्तु पर लग सकता है ऐसे में यदि कोई व्यक्ति उस वस्तु पर हाथ लगा दे तो वह वायरस उस व्यक्ति के शरीर में प्रवेश कर लेता है।

कोरोना वायरस से बचने के उपाय


  • कोरोना वायरस से बचने के लिए अभी तक कोई भी वैक्सीन नहीं बनी है। इसका बेहतरीन उपाय यही है कि आप इसके संक्रमण से बचिए।
  • कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सबसे पहला उपाय है कि आप अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन या हैंड वॉश के जरिए धोएं।
  • किसी कारणवश यदि आपको पानी और साबुन ना मिले तो आप अपने हाथों पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें सैनिटाइजर से भी सभी कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और आपको हाथ धोने की जरूरत भी नहीं पड़ती।
  • अपनी आंखों नाक मुंह को कभी भी बिना धुले हाथों से ना छोड़ें वरना आपके हाथों पर लगे कीटाणुओं आपकी आंख नाक और मुंह के जरिए आपके फेफड़ों में प्रवेश कर जाएंगे और आप भी संक्रमित हो जाएंगे।
  • व्यक्ति को भी श्वसन संबंधी रोग हैं यानी की खांसी जुखाम, या छींक ऐसा कोई व्यक्ति करें तो आप उस व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर तक दूर रहे और यदि आप खुद श्वास संबंधी बीमारियों से ग्रसित हैं तो कृपया करके घर में ही रहे।
  • खांसते छींकते वक्त टिशु का इस्तेमाल जरूर करें। और उसे ध्यानपूर्वक डस्टबिन में फेंक दें।
  • बार-बार उपयोग में आ रही वस्तुओं को डिसइनफेक्टर से साफ कीजिए।
  • यदि आप मांस खाने के शौकीन हैं और लोगों ने डरा रखा है कि मांस खाने से कोरोना वायरस फैलता है तो यह सब भ्रांति है आप यदि मांस खाना चाहते हैं तो उसे पूरी तरह से पका कर खाएं।
  • यदि आप कोरोना वायरस से संक्रमित हैं या कोरोनावायरस से बचना चाहते हैं तो आपको अपने शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ाना चाहिए इसके लिए आप बहुत सारे आयुर्वेदिक चीजें भी उपयोग में ले सकते हैं जैसे तुलसी गिलोय शहद आदि का उपयोग कर सकते हैं या काढ़ा बनाकर पी सकते हैं।

कोरोना वायरस का इलाज

  • कोरोना वायरस का अभी तक कोई भी इलाज दवाई या वैक्सीन किसी भी रूप में उपलब्ध नहीं है।
  • कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों को फिलहाल सेल्फ आइसोलेशन में रखा जा रहा है तथा उन्हें एंटी बायोटिक्स ग्लूकोस आदि नॉर्मल इलाज किए जा रहे हैं जिससे कि वह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सके और कोरोना वायरस को अपने अंदर ही खत्म कर सके।
  • जिन व्यक्तियों को ऐसा लगता है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित हैं उन्हें अपने नजदीकी अस्पताल या डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  • और नए कोरोनावायरस कि यदि आप को संपूर्ण जानकारी चाहिए तो आपको डब्ल्यूएचओ की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना चाहिए और इसकी कंप्लीट जानकारी लेनी चाहिए।



Post a comment

0 Comments